ADV

वशिष्ठ कप पर मैजिस्टिक कोशी का कब्जा

पटना। राम आशीष शर्मा ट्रस्ट के तत्वाधान में गणित शिरोमणि पदम् श्री स्वर्गीय वशिष्ठ नारायण सिंह जी के स्मृति में राजधानी पटना के ऊर्जा स्टेडियम में आयोजित वशिष्ठ नारायण मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट के आज खेले गए फाइनल मुकाबला में मैजेस्टिक कोशी ने श्याम स्टील नालंदा को 56 रन से पराजित कर विजेता ट्रॉफी पर अपना कब्जा जमाया।

जिसकी विस्तृत जानकारी देते हुए टूर्नामेंट मीडिया कमेटी के चेयरमैन कृष्णा पटेल ने बताया कि आज मैजेस्टिक कोशी और श्याम स्टील नालंदा के बीच खेले गए फाइनल मुकाबला में मैजेस्टिक कोशी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया और अश्वनी कुमार के 44 गेंदों पर 54 रन की अर्धशतकीय पारी के बाद आकाश राज के 31 रन, हृदयानंद सिंह के 23 रन और केशव कुमार के 19 रन की उपयोगी पारी के सहारे निर्धारित 20 ओवरों में 8 विकेट खोकर 165 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा कर श्याम स्टील के सामने जीत के लिए 166 रनों का लक्ष्य रखा।

श्याम स्टील के गेंदबाज व कप्तान अपूर्व आनंद ने 36 रन देकर सर्वाधिक विकेट चटकाए जबकि आलोक यादव को एक सफलता हाथ लगी।

जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्याम स्टील नालंदा की पूरी टीम हर्ष राजकुमार के 32 रन और विभूति भास्कर के 22 रन की पारी के सहारे 17.4 ओवरों में 109 रन ही बना पाए और मैजिस्टिक के हाथों 56 रनों की शिकस्त झेलनी पड़ी।

वहीं मजिस्टिक के गेंदबाज आकाश राज, पवन कुमार, शशिम राठौर व धीरज कुमार ने आपस में दो-दो विकेट बांटकर इस टूर्नामेंट के कप पर अपना कब्जा जमाया।

इस टूर्नामेंट के फाइनल मैच के पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्य अतिथि पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय, पटना के माननीय कुलपति प्रो. राकेश कुमार सिंह, बीसीए अध्यक्ष राकेश कुमार तिवारी, एस.भी.एम. स्कूल के निदेशक अनिल कुमार नाग, बीसीए के पूर्व सचिव अजय नारायण शर्मा, बीसीए टूर्नामेंट कमेटी के चेयरमैन संजय सिंह, पूर्व वरीय क्रिकेटर सुनील सिंह, आयोजन समिति के अध्यक्ष सुनील कुमार सिंह सहित अन्य अतिथियों को आयोजन समिति ने सर्वप्रथम अंग वस्त्र और प्रतीक चिन्ह भेंट कर अभिनंदन किया और सम्मानित अतिथियों ने संयुक्त रुप से विजेता व उपविजेता टीम के खिलाड़ियों को ट्रॉफी व व्यक्तिगत पुरस्कार देकर सम्मानित किया।

इस पुरे टूर्नामेंट में कुल 242 रन बनाने और 3 विकेट हासिल करने वाले रणजी क्रिकेटर शशिम राठौर को मैन ऑफ द सीरीज व बेस्ट बैटर से नवाजा गया।

जबकि बेस्ट बॉलर का अवार्ड पूरे टूर्नामेंट में सर्वाधिक 11 विकेट हासिल करने वाले श्याम स्टील के खिलाड़ी व कप्तान अपूर्व आनंद को दिया गया।

 वहीं फाइनल मुकाबला में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले अश्वनी कुमार को मैन ऑफ द मैच के पुरस्कार से नवाजा गया।

मुख्य अतिथि माननीय कुलपति प्रो. राकेश कुमार सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए खिलाड़ियों व आयोजन समिति को सर्वप्रथम बधाई दी और उपविजेता टीम के खिलाड़ियों को हौसला अफजाई करते हुए कहा कि जीवन में हार- जीत लगी रहती है लेकिन सबसे बड़ी बात भागीदारी निभाना होता है। आपने इस टूर्नामेंट में भाग लिया और फाइनल  तक का सफर तय किया यह अपने - आपमें एक गौरवान्वित विषय है ‌। 

हमारी शुभकामना है की जो कुछ कमी  रही जिस कारण आप पराजित हुए उन सारी कमियों को दूर कर अगले बार विजेता बनने का गौरव प्राप्त करें।

वहीं विजेता टीम के खिलाड़ियों को हौसला बढ़ाते हुए कहा कि आप निरंतर अपने खेल में इसी प्रकार का निखार लाते रहें और हर मुश्किल बाधाओं को पार करते हुए आप अजेय बनें रहे जिससे आप देश- प्रदेश का नाम रोशन कर सकें यही हमारी शुभकामना।  

इस अवसर पर मौजूद मैच रेफरी सौरव चक्रवर्ती ने कार्यक्रम का संचालन किया।

वहीं आयोजन समिति के संयोजक पवन कुमार, सह-संयोजक धर्मवीर पटवर्धन, रणविजय सिंह, मधु शर्मा, टूर्नामेंट मीडिया कमेटी के चेयरमैन कृष्णा पटेल, राम रमैया, अनंत कुमार, संजीव कुमार, धर्मेंद्र कुमार, कुमार उत्तम, परशुराम शर्मा,अंपायर आशुतोष कुमार, मनीष रंजन, स्कोरर रत्नेश नंदन, विंध्यांशु रंजन को अतिथियों द्वारा प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। 



Post a Comment

0 Comments