ADV

बीसीए में कोई गुट नहीं बल्कि पूरी तरह से एकजुट है बीसीए :-संजय कुमार सिंह

पटना। बिहार क्रिकेट संघ के नाम पर खिलाड़ियों को गुमराह करने वाले लोगों पर पलटवार करते हुए बीसीए क्रिकेटिंग गतिविधियों को संचालित करने के लिए अधिकृत जिला संघों के प्रतिनिधि संजय कुमार सिंह ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि जो लोग बीसीए के साथ अपना नाम जोड़कर खिलाड़ियों को ट्रायल के नाम पर दिग्भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं। 

सदैव क्रिकेट का अहित चाहने वाले कुछ असामाजिक तत्व वर्तमान समय में पुनः सक्रिय होकर खिलाड़ियों के भविष्य के साथ खेलना चाह रहे हैं। क्योंकि खेल और खिलाड़ियों का गला घोटना और उनके उज्जवल भविष्य के साथ खेलना इन जालसाज गिरोह का एकमात्र उद्देश्य रहा है ।

जबकि हकीकत यह है कि बिहार क्रिकेट संघ में जिस गुट की चर्चा कर मीडिया बंधुओं के साथ-साथ खिलाड़ियों को गुमराह किया जा रहा है  वैसा कोई गुट बीसीए में है हीं नहीं बल्कि बीसीए अध्यक्ष  राकेश कुमार तिवारी के नेतृत्व में पूरी आस्था और विश्वास के साथ उपाध्यक्ष दिलीप सिंह, कोषाध्यक्ष आशुतोष नंदन सिंह, आईसीए के मेंबर व पुरुष वर्ग के खिलाड़ी प्रतिनिधि अमीरकर दयाल और महिला वर्ग के खिलाड़ी प्रतिनिधि कविता राय की पूरी कमेटी ऑफ मैनेजमेंट एकजुट होकर निरंतर खेल और खिलाड़ियों के हित में सराहनीय कार्य कर रही है।

 सच्चाई तो यह है कि वर्तमान समय में मौसम की प्रतिकूलता और विपरीत परिस्थितियों के बावजूद   बीसीए ने बीसीसीआई द्वारा घरेलू मैचों के लिए जारी मैच शेड्यूल के मद्देनजर अपने क्रिकेटिंग गतिविधियों को सुचारू रूप से संचालित करते हुए युद्ध स्तर पर कार्य कर रही है और जगह- जगह पर अंडर-19 पुरुष वर्ग और अंडर-19 महिला वर्ग का कैंप लगा हुआ है ।

वहीं महिला सीनियर वर्ग का कैंप लगाने की सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है और जल्द हीं कैंप के लिए चयनित सीनियर महिला वर्ग के खिलाड़ियों का लिस्ट जारी कर कैंप लगाने में बीसीए जुटी हुई है। जिसे देखकर खेल विरोधियों की सांस फूलने लगी है और यही एक वजह है कि बीसीए द्वारा खेल और खिलाड़ियों के हित में  किए जा रहे इन सभी सराहनीय क्रिकेटिंग गतिविधियों को देखकर जालसाज गिरोह के सरगना का होश उड़ गया हैं और बेचैनी इस कदर बढ़ गई है कि दूसरे के कंधों पर बंदूक रखकर अपना निशाना साध रहे हैं और एक भ्रामक अफवाह फैलाकर खिलाड़ियों को दिग्भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं।  जो मानवता को शर्मसार कर देने वाली एक बेहद निंदनीय घटना है।

श्री सिंह ने कहा कि बीसीए अध्यक्ष राकेश कुमार तिवारी की अध्यक्षता वाली बीसीए हीं बीसीसीआई की एकमात्र मान्यता प्राप्त अंगीभूत इकाई है। खिलाड़ी किसी दूसरे असंवैधानिक/निलंबित व्यक्तियों के समूह द्वारा फैलाये जा रहे अफवाहों के प्रति सजग और सावधान रहें साथ हीं साथ इस असंवैधानिक लोगों द्वारा कराए जाने वाले किसी प्रकार के चयन प्रक्रिया / मैच/टूर्नामेंट का हिस्सा ना बनें अन्यथा भाग लेने वाले क्रिकेटर, पूर्व क्रिकेटर, कोच, फिजियो एवं अन्य सपोर्ट स्टाफों के खिलाफ बिहार क्रिकेट एसोसिएशन  द्वारा संविधान में वर्णित धाराओं के तहत सख्त अनुशासनिक कार्रवाई की जाएगी।

जिसकी अधिकारीक सूचना बीसीए के सीईओ मनीष राज ने बिहार क्रिकेट संघ के वेबसाइट पर अपलोड कर दी है। उपरोक्त बातों की जानकारी प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बीसीए मीडिया कमेटी के संयोजक कृष्णा पटेल ने दी।

Post a Comment

0 Comments