ADV

विजय हजारे ट्रॉफी:- बिहार के निचले क्रम के बल्लेबाज़ों ने बचाई लाज, रेलवे ने जीत के साथ किया आगाज

बेंगलुरु:- बीसीसीआई द्वारा आयोजित विजय हजारे ट्रॉफी के ग्रुप सी के पहले मुकाबले में ही बिहार को हार का सामना करना पड़ा। रेलवे की टीम ने बिहार को 10 विकेटों से हराया। बिहार के हार का कारण टॉप आर्डर के बल्लेबाजों का लचर प्रदर्शन रहा। बिहार के लिए निचले क्रम के बल्लेबाज अनुज राज और शब्बीर खान ने 8वां विकेट के लिए 120 रनों ही साझेदारी की।  

बेंगलुरु के अल्लुर क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए इस मैच में टॉस रेलवे ने जीता और बिहार को बैटिंग का न्योता दिया। रेलवे के प्रदीप पूजार ने ऐसा कहर बरपाया कि बिहार का टॉप बैटिंग ऑर्डर धराशाई हो गया। शशीम राठौर (3 रन), बाबुल कुमार (1 रन), मंगल महरौर (0) सस्ते में पवेलियन लौट गए। 20 रन पर तीन विकेट गिर गए। इसके बाद शकीबुल गणि और आकाश राज ने थोड़ी देर के लिए विकेट पतन को रोका पर यह भी ज्यादा तक नहीं टिक पाये और शकीबुल गणि के आउट होते ही एक बार विकेट का गिरना शुरू हो गया।

बिहार ने 14.1 ओवर में 64 रन पर सात विकेट गंवा दिये। इसके बाद शब्बीर खान और अनुज राज ने शतकीय साझेदारी की और बिहार टीम का स्कोर 45.5 ओवर में सभी विकेट खोकर 189 रन पहुंचाया। शब्बीर खान ने 95 गेंद में चार चौकों व 1 छक्का की मदद से नाबाद 46, अनुज राज ने 93 गेंद में चार चौकों व 5 छक्कों की मदद से 72 रन बनाये। शकीबुल गणि ने 24, आकाश राज ने 13 रन, समर कादरी ने 5 रन बनाये। रेलवे की ओर से अमित मिश्रा ने 30 रन देकर 3, प्रदीप पूजार ने 43 रन देकर 6, करण शर्मा ने 30 रन देकर 1 विकेट चटकाये।

जवाब में रेलवे ने 29 ओवर में बिना किसी नुकसान के 190रन बना मैच जीत लिया। मृणाल देवधर ने 91 गेंद में दस चौकों व 3 छक्कों की मदद से नाबाद 105 और प्रथम सिंह ने 83 गेंद में 6 चौका व 1 छक्का की मदद से 72 रन बनाये और मुकाबले को 10 विकेटों से जीत लिया।  गेंदबाजी करते हुए बिहार ने रेलवे का एक भी विकेट नहीं चटका पाये और आखिर में बिहार टीम को रेलवे के हाथों दस विकेट की हार खानी पड़ी। 


Post a Comment

0 Comments