ADV

इंडिया के पूर्व सेलेक्टर का खुलासा, कोरोना वायरस के कारण महेंद्र सिंह धोनी नही खेल पाए टी20 वर्ल्डकप

टीम इंडिया के पूर्व सेलेक्टर ने खुलासा करते हुए कहा है कि कोरोना वायरस ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी से टी-20 वर्ल्ड कप खेलने का मौका छीन लिया। दरअसल, कई पूर्व क्रिकेट दिग्गजों का कहना था कि महेंद्र सिंह धोनी को टी-20 वर्ल्ड कप का इंतजार था और वो चाहते थे कि टीम इंडिया को एक और वर्ल्ड कप जिताकर मैदान से क्रिकेट को अलविदा कहें, लेकिन कोरोना वायरस के कारण टी-20 वर्ल्ड कप टाल दिया गया और धोनी जैसा चाहते थे वैसा हो न सका।

भारत के पूर्व चीफ सेलेक्टर सरनदीप सिंह ने खुलासा किया है कि महेंद्र सिंह धोनी 2020 में पक्का टी-20 वर्ल्ड कप खेलते, लेकिन कोरोना वायरस ने पूरी तस्वीर बदल दी और धोनी को संन्यास लेना पड़ा।


सरनदीप सिंह ने स्पोर्ट्सकीड़ा को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि धोनी फिट थे और वह 2020 का टी-20 वर्ल्ड कप खेल सकते थे, जिसे बाद में टाल दिया गया। अगर कोरोना वायरस खलल नहीं डालता तो महेंद्र सिंह धोनी 2020 में टी-20 वर्ल्ड कप पक्का खेलते। 


सरनदीप सिंह ने आगे कहा, 'चयन समिति के सभी सदस्यों का मानना ​​था कि धोनी टी-20 वर्ल्ड कप खेलने के लायक थे। एक खिलाड़ी और एक कप्तान के रूप में उन्होंने टीम इंडिया के लिए जो हासिल किया और भारत के लिए इतनी सारी ट्रॉफी जीती हैं, वह इस मौके के हकदार थे। 

धोनी की उपलब्धियां

1 क्रिकेट वर्ल्ड कप (2011)
1 टी-20 वर्ल्ड कप (2007)
1 चैम्पियंस ट्रॉफी (2013)
3 आईपीएल खिताब (2010, 2011, 2018)
2 चैम्पियंस लीग टी-20 खिताब (2010, 2014)
10,773 वनडे रन+ विकेट के पीछे 444 शिकार
4,876 टेस्ट रन + विकेट के पीछे 294 शिकार
1,617 टी-20 इंटरनेशनल रन + विकेट के पीछे 91 शिकार


बता दें कि वर्ल्ड क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी इकलौते ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने आईसीसी की तीन बड़ी ट्रॉफी पर कब्जा जमाया है. धोनी की कप्तानी में भारत आईसीसी वर्ल्ड टी-20 (2007), क्रिकेट वर्ल्ड कप (2011) और आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी (2013) का खिताब जीत चुका है। इसके अलावा भारत 2009 में पहली बार टेस्ट में नंबर एक बना था।


Post a Comment

0 Comments