ADV

धोनी ने मैच जीतने के बाद कहा ऐसी स्थिति में एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों का अनुभव ही काम आता है।


चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के पहले मैच में गत चैंपियन मुंबई इंडियन्स के खिलाफ पांच विकेट की जीत में उनकी टीम का ‘अनुभव’ अहम साबित हुआ।

धोनी ने जीत के बाद कहा, ‘‘अनुभव काम कर गया, सभी इस बारे में बात कर रहे हैं। काफी मैच खेलने के बाद ही आपको अनुभव हासिल होता है। 300 एकदिवसीय मैच खेलना किसी भी क्रिकेटर का सपना होता है और जब आप मैदान पर टीम उतारते हो तो आपको युवा और अनुभवी खिलाड़ियों के अच्छे मिश्रण की जरूरत होती है।’’ 


Admission Open

उन्होंने कहा, ‘‘आपको अनुभवी खिलाड़ियों की जरूरत होती है कि वे मैदान पर युवा खिलाड़ियों का मार्गदर्शन करें। युवा खिलाड़ियों को आईपीएल में सीनियर खिलाड़ियों के साथ 60-70 दिन बिताने का मौका मिलता है।’ चेन्नई के इस करिश्माई कप्तान ने हालांकि कहा कि उनकी टीम को अभी कुछ विभागों में सुधार करने की जरूरत है। 

धोनी ने कहा, ‘‘काफी सकारात्मक पक्ष रहे लेकिन कुछ ऐसे विभाग हैं जिन पर काम करने की जरूरत है। विशेषकर टाइमिंग को लेकर। बाद में खेलते हुए ओस पड़ने तक थोड़ा मूवमेंट रहता था। ऐसे में अगर आपके पास विकेट बचे हों तो आप फायदे में रहते हो।’’ 

धोनी ने रायुडू और डुप्लेसिस की साझेदारी को महत्वपूर्ण करार देते हुए कहा, ‘‘हमारे गेंदबाजों को लय हासिल करने में समय लगा। रायुडू ने फाफ के साथ बेहतरीन साझेदारी निभायी। हमारे अधिकतर खिलाड़ी संन्यास ले चुके हैं इसलिए अच्छी बात यह है कि हमारा कोई खिलाड़ी चोटिल नहीं है। ’’ 

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके इस विकेटकीपर बल्लेबाज का यह पिछले साल विश्व कप के बाद पहला प्रतिस्पर्धी मैच था और उन्होंने कहा कि मैदान पर उतरना अलग तरह का अहसास होता है। धोनी ने कहा, ‘‘आपने बहुत अभ्यास किया हो लेकिन मैदान पर उतरकर खेलना भिन्न होता है। वहां आपको परिस्थितियों का आकलन करके अपना सर्वश्रेष्ठ देना होता है।’’ 



Post a Comment

0 Comments