ADV

शोएब अख्तर ने 2006 में टेस्ट मैच के दौरान एम एस धोनी को जानबूझकर फेका था बीमर


पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने खुलासा किया है कि उन्होंने 2006 में फैसलाबाद में भारत-पाकिस्तान टेस्ट मैच में विकेटकीपर बल्लेबाज एम.एस.धोनी को मैच के दौरान बीमर फेंके थे, जब वह शतक बनाकर खेल रहे थे। मैच में धोनी ने 148 रनों की पारी खेली थी, जिसमें 19 चौके और 4 छक्के लगाए थे।

"जब भारत की टीम पाकिस्तान आया था, तो मेरे पैर में कुछ चोट थी। फिर भी मैंने दैनिक आधार पर इंजेक्शन लेने का फैसला किया। डॉक्टर ने मुझे इंजेक्शन दिया और पैर सुन्न हो गया। फैसलाबाद में पिच बहुत धीमी थी,"अख्तर ने आकाश चोपड़ा के यू-ट्यूब शो 'आकाशवाणी' में यह बताया।

Admission Open

तेज गेंदबाज ने कहा, "मुझे लगता है कि मैंने फैसलाबाद में आठ-नौ ओवर फेंके थे। यह एक महत्वपूर्ण स्पेल था और धोनी ने उसी दौरान शतक बनाया। मैंने जानबूझकर धोनी को बीमर डाली और फिर उनसे माफी मांगी।" इसके बाद अख्तर ने आगे बताया कि यह पहली बार था जब उन्होंने जानबूझकर बीमर किया था।

उन्होंने कहा, "यह मेरे जीवन में पहली बार था जब मैंने बीमर गेंदबाज़ी जानबूझकर की थी। मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था। मुझे इस पर बहुत पछतावा है। वह इतना अच्छा खेल रहा था और विकेट बहुत धीमे थे। हालांकि, जिस तेजी से मैं गेंदबाजी कर रहा था, और वो लगातार शॉट्स खेले जा रहा था। इसके बाद मैं निराश हो गया और बीमर फेंकने का निर्णय किया।

फैसलाबाद टेस्ट में, भारत ने पहली पारी में पाकिस्तान के 588 रनों के जवाब में 603 रन बनाए थे। इसके बाद मेजबान टीम ने 490/8 पर अपनी पारी घोषित की, जिससे भारत ने 476 रनों का लक्ष्य रखा। राहुल द्रविड़ की अगुवाई वाली टीम ने अंतिम पारी में बिना किसी नुकसान के 21 रन बनाए और मैच ड्रॉ रहा।

अख्तर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पाकिस्तान के लिए 224 मैच खेले और सभी प्रारूपों में 444 विकेट लिए। रावलपिंडी एक्सप्रेस ने आखिरी बार 2011 में एकदिवसीय मैच खेला था जब उन्होंने 50 ओवर के विश्व कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था।




Post a Comment

0 Comments