ADV

2018 में ब्लाइंड वर्ल्डकप जीतने वाले क्रिकेटर को कोविड-19 के कारण अहमदाबाद में सब्ज़ी बेचना पड़ रहा है


शारजाह में पाकिस्तान द्वारा निर्धारित 308 रनों के चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछा करने के बाद 20 मार्च, 2018 को भारतीय ब्लाइंड क्रिकेट टीम में नरेश तुमड़ा 11 ब्लाइंड वर्ल्ड कप खेलने वाले खिलाड़ियों में से थे।  दो साल बाद, क्रिकेटर को कोविड-19 के संकट के कारण अहमदाबाद के जमालपुर बाजार में सब्जियां बेचना पड़ रहा है।

Admission Open

नवसारी के वंसदा के 29 वर्षीय तुमदा पर पांच लोगों की जिम्मेदारी हैं। उनकी उम्मीदों के विपरीत, सरकारी सहायता दृष्टिबाधित क्रिकेटरों के लिए नौकरियों की पेशकश करने में आगे नहीं बढ़ रही है।  दैनिक वेतन नौकरियों और महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम में मंदी के बाद, उनके पास अपनी सब्जी बेचने के अलावा कोई विकल्प नहीं था।

“जब भारतीय क्रिकेट टीम विश्व कप जीतती है, तो सरकार और निगम उन पर धन की वर्षा करते हैं। अंधे है तो क्या हम खिलाड़ी नही है। समाज को हमारे साथ समान व्यवहार करना चाहिए।

कोविड -19 के मंदी के कारण, अन्य क्षेत्रों के कई पेशेवरो को जरूरर पूरा करने के लिए सब्जियां बेचना पैड रहा है या बेचने की ओर रुख कर रहे हैं।


Post a Comment

0 Comments