ADV

महिला क्रिकेट:- साई पुरंदरे के नाबाद शतक से मेघालय ने बिहार को पराजित किया।


सीकेम स्टेडियम पांडिचेरी में बिहार और मेघालय के बीच खेले गए महिला सीनियर एकदिवसीय ट्रॉफी मुकाबला में मेघालय ने साई पुरंदरे के नाबाद शतक से बिहार को 6 विकेट से पराजित कर सभी 4 अंक अपनी झोली में डाला।


मेघालय के कप्तान ने टॉस जीत कर पहले क्षेत्ररक्षण करने का निर्णय लिया और बिहार को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। बिहार की ओर से पारी की शुरुआत करने आई प्रीति और साना अली ने 58 रन की साझेदारी कर बिहार को एक ठोस शुरुआत दिलाई। बिहार को पहला झटका 58 रन के योग पर ही लगा जब साना अली 20 रन के निजी स्कोर पर दाईका की शिकार बनी, जिससे दाईका ने वंदना महाजन के हाथों कैच कराकर चलता किया और अपनी टीम को पहली सफलता दिलाई। जबकि बिहार को दूसरा झटका 77 रन के योग पर सैयद निशात फातमा 6 रन के रूप में लगी जिसे भी दाईका ने दत्ता के हाथों कैच कराकर पवेलियन का रास्ता दिखाया  एक छोर पर जमकर बल्लेबाजी कर रही प्रीति का साथ देने अपूर्वा कुमारी आई लेकिन 14 रन के निजी स्कोर पर पिंकी चंदा ने उसे एलबीडब्ल्यू कर बिहार को तीसरा झटका दिया उस समय बिहार का  स्कोर 127 रन  था। चौथा झटका बिहार को 132 रन के योग पर लगी जब बी• कुमारी 2 रन बनाकर  रीति एन• की शिकार बनी। वहीं पांचवां झटका 160 रन के योग पर लगी जब एक छोर पर जमकर बल्लेबाजी कर रही प्रीति कुमारी ने अपना संयम खो बैठी और शतक लगाने से चूक गई, वह 85 रन के निजी स्कोर पर अजीमा की शिकार बनी जिसे अजीमा ने क्लीन बोल्ड कर पवेलियन का रास्ता दिखाया।


छठा झटका 174 रन के योग पर कप्तान रचना कुमारी 26 रन के रूप में, सातवां 179 रन के योग पर अपूर्वा 4 रन के रूप में, आठवां 183 रन अमीषा कुमारी अंशु 1 रन के रूप में, और नौवां झटका पारी की आखिरी गेंद पर 183 रन के योग पर श्रद्धा 00 रन के योग पर लगी और बिहार की पूरी टीम 50 ओवरों में 9 विकेट के नुकसान पर 183 रन बनाने में सफल रही और मेघालय को जीत के लिए 184 रनों का लक्ष्य दिया।

इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेघालय की टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और टीम को पहला झटका 25 रन के योग पर  ताईव 5 रन के रूप में लगी, जिसे अपूर्वा कुमारी ने क्लीन बोल्ड कर बिहार को पहली सफलता दिलाई। दूसरी सफलता 30 रन  के योग पर हाजोंग बिना खाता खोले अपूर्वा की शिकार बनी जिससे अपूर्वा ने क्लीन बोल्ड कर बिहार को दूसरी सफलता दिलाई। मेघालय को तीसरा झटका 62 रन के योग पर लगी जब डेई 5 रन के निजी स्कोर पर दीपा कुमारी के हाथों रन आउट होकर पवेलियन वापस आ गई। एक छोर पर डटकर बल्लेबाजी कर रही साई पुरंदरे का साथ देने आई वंदना महाजन ने मेघालय की पारी को कुछ हद तक संभाली और जब टीम का स्कोर 130 रन पर पहुंची तब मेघालय को चौथा झटका वंदना महाजन के रूप में लगी जो 29 रन बनाकर श्रद्धा का शिकार बनी जिसे शरदा ने रचना कुमारी के हाथों कैच कराकर पवेलियन का रास्ता दिखाया। लेकिन बिहार की सारी उम्मीदों पर पानी फेरते हुए साई पुरंदरे ने नाबाद 120 रनों की पारी खेलकर अपनी टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई और मेघालय को 6 विकेट से जीत दिला दी। बिहार की ओर से गेंदबाजी कर रही अपूर्वा श्रद्धा और अपूर्वा कुमारी को 1-1 सफलताएं ही हाथ लगी और बिहार को मेघालय के हाथों हार का मुंह देखना पड़ा। जिसकी  विस्तृत जानकारी बीसीए के मीडिया प्रभारी कृष्णा पटेल ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी है।


Post a Comment

0 Comments