ADV

गौतम गंभीर के साथ फनगेज पॉवरप्लेयर ने जारी किया भारत का पहला क्रिकेट स्कॉलरशिप, बिहार के नेशनल खिलाड़ी रूपक कुमार भी इस कार्यक्रम से जुड़े।


पटना:- बिहार में अब भारत का पहला क्रिकेट स्कॉलरशिप, फनगेज पॉवरप्लेयर ने बिहार के 12-24 वर्ष के लड़के, लड़कियों के लिए खेल का एक नया मंच लेकर आया है। फनगेज पॉवरप्लेयर में पद्मश्री गौतम गंभीर भी शामिल है और वो इसके इंस्पिरेशन पार्टनर भी है। गौतम गंभीर ने पटना के लेमन ट्री में आयोजित 
फनगेज पॉवरप्लेयर स्कॉलरशिप कार्यक्रम में कहा कि बिहार में वो क्रिकेटरों की प्रतिभाओं को निखारने के साथ बड़े मंच प्रदान करेंगे।



क्या है एफजी पॉवरप्लयेर
फनगेज पॉवरप्लेयर 12 से 24 वर्ष के लड़के, लड़कियों को 25 लाख रुपये की पांच साल चलने वाली क्रिकेट स्कॉलरशिप मुहैया करवाता है। इस योजना को चार भाग में बांटा गया है, जिसमे 16 वर्ष से कम आयु वाले, 19 वर्ष से कम आयु वाले, 24 वर्ष से कम आयु वाले और महिला क्रिकेटरों के लिए अलग योजना शामिल है। स्कॉलरशिप के तहत फ्री किट, क्रिकेट से जुड़ा समान, पढ़ाई का खर्च, मैच की फीस, दबा, एवं अन्य संबंधी सहयोग और खेल फिजियोथेरेपी भी शामिल है। इसके अलावा इस योजना में 15 टॉप खिलाड़ियों को विदेशों में जाकर सीखने और अंतर्राष्ट्रीय खेलों का अनुभव प्राप्त करने का मौका मिलेगा। 



क्या है चयन की प्रक्रिया 
चयन की प्रक्रिया पूरी तरह से पारदर्शी रखी गयी है। फनगेज पॉवरप्लेयरमें भाग लेने वाले क्रिकेटर के हर गेंद को एच डी कैमरे से रिकॉर्ड किया जाएगा। इस वीडियो को अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों को प्रशिक्षित करने वालों के द्वारा जांच कराया जाएगा। फनगेज पॉवरप्लेयर के ट्रायल में तीन चरण होंगे। पहला ओपन ट्रायल, दूसरा एडवांस ट्रायल, आउट तीसरा चरण में आवासीय कैम्प का आयोजन किया जाएगा। 



पहले चरण में मैदान में पांच एच डी कैमरा लगे होंगे, जिसमे खिलाड़ियों को 12 गेंदो के खेल की रिकॉर्डिंग की जाएगी। दूसरे चरण में कोच खिलाड़ियों के 24 गेंदों के खेल को देखकर निरीक्षण करेंगे। तीसरे और अंतिम चरण में 20 दिवसीय आवासीय कैम्प का आयोजन होगा, जिसमे प्रतिभागियों को कम से कम पांच मैच खेलने होते हैं, और साथ ही राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के कोच उनको प्रशिक्षण देगे। फनगेज अप्प के जरिए पहले, दूसरे और तीसरे चरण के अंक लगातार प्रदर्शित किए जाएंगे। सभी तीन चरणों को पार करने वाले खिलाड़ी स्कॉलरशिप के लिए चुने जाकर फनगेज पॉवरप्लेयर बनते है। जिन्हें गौतम गंभीर एक समारोह में सम्मानित करेंगे । 



नामांकन की प्रक्रिया:- 
ट्रायल के लिए नामांकन करने में केवल फनगेज एप्प को गूगल प्ले या एप्पल स्टोर से डाउनलोड करना है। बॉलर और बैट्समैन को रजिस्ट्रेशन के लिए 2000 रुपये का शुल्क रखा गया। जबकि ऑल राउंडर और विकेट कीपर के लिए 3000 रुपये का शुल्क निर्धारित किया गया है। एक बार शुल्क देने के बाद आगे कोई शुल्क नही लिया जाएगा। दूसरा चरण पार कर चुके खिलाड़ियों के लिए 20 दिनों का आवासीय कैम्प और अंतर्राष्ट्रीय ट्रेनिंग पूरी तरह से फनगेज डॉट कॉम द्वारा दी जाएगी।


बिहार के खिलाड़ियों के लिए स्कॉलरशिप की योजना:- 
बिहार में पहले चरण का ट्रायल 6 अप्रैल से शुरू होगी। जिसमे खिलाड़ियों द्वारा खेले गए 12 गेंदो की रिकॉर्डिंग खिलाड़ियों को दी जाएगी। दूसरे चरण को अप्रैल के अंत मे शुरू किया जाएगा। आवासीय कैम्प के लिए चुने गए खिलाड़ियों को मई के महीने में आमंत्रण भेजा जाएगा। तीन सप्ताह के काउंटी क्रिकेट के लिए प्रतिभागियों के दूसरे दल को जून 2020 में इंग्लैंड भेजे जाने की योजना है। बिहार के खिलाड़ियों के लिए रेजिस्ट्रेशन 10 फरवरी से शुरू हो चुके है। इसके सारे निबंधन ऑनलाइन ही लिए जाते है, मगर फिर फनगेज पॉवरप्लेयर की टीम ऑफलाइन रेजिस्ट्रेशन के लिए 15 फरवरी को शाखा मैदान में मौजूद रहेगी। 
इस बारे में ज्यादा जानकारी www.funngage.com में जाकर प्राप्त कर सकते है। 



Post a Comment

1 Comments