ADV

बाउल्स स्पोर्ट्स एसोसिएशन के बारे में बिहार की अध्यक्ष ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस खेल के बारे में जानकारी दी।


बाउल्स स्पोर्ट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के तत्वावधान में जनवरी माह के दूसरे सप्ताह में कोलकाता ( पश्चिम बंगाल ) में आयोजित होने वाली दूसरी सीनियर राष्ट्रीय बाउल्स स्पोर्ट्स चैंपियनशिप ( पुरूष व महिला ) में बिहार बाउल्स स्पोर्ट्स की पुरूष व महिला टीम भी सहभागिता करेगी।


इस बात की जानकारी बाउल्स स्पोर्ट्स एसोसिएशन ऑफ बिहार की नव मनोनीत अध्यक्ष-सह-सदस्य, बिहार विधान परिषद रीना यादव ने बताया कि बाउल्स स्पोर्ट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया ने हाल ही में बाउल्स स्पोर्ट्स एसोसिएशन ऑफ बिहार को मान्यता दी है।

बाउल्स स्पोर्ट्स को राज्य में लोकप्रिय बनाने हेतु विद्यालय स्तर से प्रशिक्षण शिविर का आयोजन कर विभिन्न जिलों में इसकी शुरुआत की जायेगी। राज्य का पहला प्रशिक्षण शिविर नवंबर के अंतिम सप्ताह में पटना में आयोजित किया जायेगा। जिसमें राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षक प्रशिक्षण देंगे।

बाउल्स स्पोर्ट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष -सह- पूर्व मंत्री गुजरात सरकार गिरीशचंद्र परमार एवं महासचिव एमपी दुलेरा ने बिहार राज्य संघ को सभी तरह से मदद करने का आश्वस्त किया है।

बाउल्स गेम्स एसोसिएशन ऑफ बिहार के सचिव गौरी शंकर ने बताया कि बाउल्स स्पोर्ट्स दो तरह से खेला जाता हैं 1.फ्लैट ग्रीन बाउल्स, 2. क्राउन ग्रीन बाउल्स। आमतौर पर यह बाहरी मैदान में खेला जाता है। हालांकि इसे इंडोर स्थल पर भी खेला जा सकता है। इसका सतह प्राकृतिक घास,कृत्रिम घास व मिट्टी मैदान पर भी खेला जाता है।


पुरुष वर्ग में बॉल का वजन एक किलो दो सौ ग्राम व महिला वर्ग के लिए इसका वजन 900 ग्राम होता है। खेलने का मैदान 27 मीटर लंबा व 2.5 मीटर चौड़ा होता है। इसके एकल,युगल व मिश्रित युगल मुकाबले होते हैं। भुवनेश्वर ( ओडिशा ) में 18 से 20 अक्टूबर तक संपन्न हुए भारत मे पहली अंतरराष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षण/सेमिनार में का आयोजन किया गया जिसमें फ्रांस के विश्वस्तरीय प्रशिक्षक क्रिस्टोफर ने प्रशिक्षण दिया। बिहार के अशोक कुमार व हरेन्द्र सिंह सहभागिता कर लौटे हैं। जिसका लाभ बिहार बाउल्स के खिलाड़ियों को मिलेगा।

बाउल्स स्पोर्ट्स एसोसिएशन ऑफ बिहार के कोषाध्यक्ष ज्योति कुमार ने बताया कि लगभग 90 देशों में खेले जाने वाले इस खेल को प्रचार -प्रासारित किया जायेगा। बाउल्स स्पोर्ट्स को अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कॉउंसिल से मान्यता प्राप्त है। आने वाले वर्षों में यह ओलंपिक में खेला जाएगा। राज्य के खिलाड़ियों को अतिशीघ्र इस खेल से सम्बंधित आधारभूत संरचना उपलब्ध कराई जाएगी।
इस संवाददाता सम्मेलन में संघ के उपाध्यक्ष सुजय सौरभ, राहुल राय,संयुक्त सचिव वर्षा शर्मा,  पुष्कर देव, रोहित राय, धीरज कुमार भी उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments