ADV

स्टोक्स के स्टोक से इंग्लैंड ने जीता पहला मुकाबला, सिरीज़ 1-1 से बराबर


इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे एशेज सिरीज़ का तीसरा टेस्ट मुकाबला इंग्लैंड ने 1 विकेट रहते हासिल कर ली।इस मैच में बेन स्टोक्स ने लाजवाब प्रदर्शन करते हुए दिखा दिया की हरी बजी को जीतना उन्हें आता है और वाकई में स्टोक्स ने अपने कैरियर का सबसे अच्छा क्रिकेट खेल कर दिखाया।

अंडर-19 एशिया कप के अभ्यास मैच के लिए आकाश राज का चयन भारतीय टीम में


इस मैच को जीतने के लिए इंग्लैंड को 359 रनों की जरुरत थी,और इंग्लैंड ने बल्लेबाज़ी करते हुए 1 विकेट से जीत हासिल की. एक समय तो ऐसा लग रहा था की ऑस्ट्रेलिया मैच को बड़ी आसानी से जीत जाएंगी पर बेन स्टोक्स को कुछ और ही मंजूर था और उन्होंने 219 गेंदों का सामना करते हुए 135 रन की शानदार नाबाद पारी खेली। इस बेहतरीन पारी के दौरान बेन स्टोक्स के बल्ले से 11 चौके और 8 छक्के निकले। 10वें विकेट के लिए बेन स्टोक्स और जैक लीच के बीच 76 रन की शानदार साझेदारी हुई।बेन स्टोक्स ने अपनी पारी की शुरुआत काफ़ी धीमी की थी। बेन स्टोक्स ने पहली 42 गेंदों में मात्र 2 रन बनाए थे। लेकिन जब इंग्लैंड के 9 विकेट गिर गए थे उसके बाद बेन स्टोक्स ने कुल 42 गेंदें खेली जिनमें शानदार 74 रन बना डाले।
टेस्ट क्रिकेट में यह जीत इंग्लैंड की लक्ष्य का पीछा करते हुए सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले साल 1928-29 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इंग्लैंड की टीम में 332 रनों के लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया था। इंग्लैंड की जीत के हीरो रहे बेन स्टोक्स को इस मैच में शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच दिया गया

Post a Comment

0 Comments