ADV

एकदिवसीय क्रिकेट वर्ल्डकप में 44 साल के बाद इंग्लैंड बना विश्व विजेता


वर्ल्डकप का फाइनल मैच इस वर्ल्डकप का सबसे अच्छा मैच रहा,जिसे भूलना भी चाहें तो आपके जहन में ये मुकाबला हमेशा रहेगा और कम से कम अगले चार साल तक तो ज़रूर सबको याद रहेगा। वर्ल्डकप के फाइनल मुकाबले में सुपर ओवर का मुकाबला भी टाई रहा । इंग्लैंड की टीम ने बाउंड्री के आधार पर फाइनल जीत लिया और 2019 वर्ल्ड कप के विश्व विजेता बने। इस मैच का फैसला 100 ओवर का खेल हो जाने के बाद भी नही निकला, इसलिए सुपर ओवर करवाया गया लेकिन सुपर ओवर भी टाई हो गया और ज्यादा चौके और छक्के लगाने के लिए इंग्लैंड को विजेता घोषित किया गया।

इंग्लैंड और वेल्स में खेले जा वर्ल्डकप 2019 का फाइनल लॉर्ड्स के ग्राउंड पर खेला गया। जहाँ न्यूज़ीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 241 रन बनाए।  न्यूज़ीलैंड के लिए बल्लेबाज़ी करते हुए निकोल्स ने 55, टॉम लाथम ने 47, विलियमसन ने 30, निशाम ने 19 और गुप्टिल ने 19 रनों के योगदान दिया और किसी तरह स्कोर को 240 के पार पहुंचाया। वही फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड की दमदार गेंदबाज़ी देखने को मिली। इंग्लैंड के लिए प्लंकेट ने 3, क्रिस वोक्स ने 3, आर्चर ने 1, और वुड ने 1 विकेट लेकर न्यूज़ीलैंड को बड़ा स्कोर बनाने नही दिया ।

फाइनल में इस लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड ने 50 ओवर में सभी विकेट खोकर 241 रन बनाए और किसी तरह मुकाबले को ड्रा कराया। फाइनल में इंग्लैंड के तरफ से भी बल्लेबाज़ी में प्रेसर देखने को मिला और इसी वजह से मुकाबला टाई रहा। इंग्लैंड के लिए बल्लेबाज़ी करते हुए स्टोक्स ने नाबाद 84, बटलर ने 59, बेयरस्टो ने 36 और रॉय ने 17 रन बनाए और स्कोर को बराबर किया। वही न्यूजीलैंड के लिए गेंदबाज़ी करते हुए निशाम और फर्गुसन ने 3-3 विकेट लिए और इंग्लैंड को मुश्किल में डाल दिया।

मुकाबला टाई होने के बाद सुपर ओवर का खेल खेला गया जिसमें इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए एक ओवर में 15 रन बनाए और न्यूजीलैंड को जीतने के लिए 16 रनों लक्ष्य रखा। वही न्यूज़ीलैंड ने भी सुपर ओवर में 15 रन बना दिए और मुकाबला फिर टाई हो गया । तब नतीजा बाउंड्री के आधार के निकला गया।न्यूज़ीलैंड ने अपनी इनिंग में 16 बाउंड्री ही लगा सकी जबकि इंग्लैंड ने बल्लेबाज़ी करते हुए 24 बाउंड्री लगाए और इस वर्ल्डकप पर 44 साल बाद कब्ज़ा जमाया।

क्रिकेट के जन्मदाता इंग्लैंड रहे है पर जब से वर्ल्डकप शुरू हुआ तब से लेकर अब तक 44 साल हो गए और अब जाके वो एकदिवसीय फॉरमेट में विश्व विजेता बने है। 

Post a Comment

0 Comments